Connect with us

उत्तराखण्ड

उधम सिंह नगर दौरे के दौरान आईजी कुमाऊ ने की बड़ी कार्रवाई, एक उपनिरीक्षक को किया सस्पेंड 5 को किया लाइन हाजिर व 9 के विरुद्ध खोली प्रारम्भिक जांच

आई जी कुलाऊ डॉ. नीलेश आनंद भरणे द्वारा जनपद उधम सिंह नगर में समीक्षा कर अधिकारियो को सख्त निर्देश जारी किए ।।

आई जी ने उप निरीक्षक मनोज कुमार द्वारा अपने कार्य क्षेत्र किरतपुर ढाल पर ठेलों पर अवैध रूप से शराब की बिक्री होने तथा सिडकुल से महिलाओं की आवाजाही के दौरान उनसे होने वाली छेड़खानी पर लापरवाही बरतने के लिए निलंबित किया गया इसके साथ ही उप निरीक्षक ललित चौधरी, एंबीराम, मुकेश रावत, विकास रावत, अनुराग सिंह द्वारा अनावश्यक रूप अभियोग की विवेचना में लापरवाही बरतने तथा लंबित रखने पर लाइन हाजिर किया गया, इसके अतिरिक्त 9 मामलों में आईजी द्वारा प्रारंभिक जांच के आदेश दिए

उप निरीक्षक दिनेश परिहार द्वारा अपने कार्य क्षेत्र में अच्छा कार्य करने पर ₹1500 का नगद पुरस्कार भी दिया गया

यह भी पढ़ें 👉  कोटद्वार में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी को लोकसभा पहुँचाने की की अवाम से अपील...

परफारमेंस अप्रेजल के आधार पर कांस्टेबल से लेकर क्षेत्राधिकारी तक के कार्यों की समीक्षा l

रम्पुरा चौकी इन्चार्ज द्वारा साल में एनडीपीएस एक्ट के मात्र 02, आबकारी अधिनियम के कुल 12 व शस्त्र अधिनियम की 3 निरोधात्मक कार्यवाही की गई हैं। जबकि रम्पुरा क्षेत्र में नशे व शराब के सम्बन्ध में आय दिन शिकायतें प्राप्त होती रहती हैं। इस सम्बन्ध में पर्याप्त कार्यवाही न किये जाने पर रम्पुरा चौकी इन्चार्ज उ0नि0 अम्बी राम को लाईन हाजिर किया गया ।
उ0नि0 मुकेश रावत द्वारा 04 माह में कुल 32 एम0वी0 एक्ट के चालान किये गए एवं वर्ष में प्राप्त कुल 22 विवेचनाओं में से किसी का भी निस्तारण नहीं किया गया , जिस कारण उ0नि0 को लाईन हाजिर किया गया ।

उ0नि0 विकास रावत द्वारा आदेश कक्ष में अपना विवेचना रजिस्टर प्रस्तुत नहीं किया गया तथा वर्ष में प्राप्त 51 एन0बी0डब्ल्यू में से किसी की भी तामील नहीं कराई गई , जिस कारण उ0नि0 को लाईन हाजिर किया गया ।

यह भी पढ़ें 👉  आग लगने से सड़क पर खड़ी कार हुई स्वाह, देखिए वीडियो…..

उ0नि0 अनुराग सिंह द्वारा आदेश कक्ष में अपना विवेचना रजिस्टर प्रस्तुत नहीं किया गया तथा पर्फौर्मैन्स एपरेज़ल शीट नहीं भेजी और वर्ष 2021 के 13 अभियोग अकारण लम्बित है , जिस कारण उ0नि0 को लाईन हाजिर किया गया ।

उ0नि0 ललित चौधरी द्वारा धोखाधडी के अभियोगों को लम्बे समय से अकारण लम्बित रखते हुए विवेचना में अभी तक नामजद अभियुक्तों की स्थित स्पष्ट न किये जाने पर उक्त उ0नि0 को लाईन हाजिर किया गया ।
आई जी द्वारा बताया गया कि लापरवाही बरतने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा साथ ही अच्छा कार्य करने वालों को प्रोत्साहित भी किया जाएगाl

Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page